महिलाओं को हफ्ते में दो बार दोस्तों के साथ बाहर जरूर जाना चाहिए

पार्टी और दोस्ती को लेकर महिलाओं पर व्यंग्य कसने वालों को अब अपनी जुबान संभाल लेनी चाहिए। इंग्लैंड की एक रिसर्च के अनुसार जो महिलाएं हफ्ते में कम से कम दो बार अपनी दोस्तों के साथ बाहर जाती हैं, उनका स्वास्थ्य अच्छा रहता है। यही नहीं, वो बीमार होने पर भी जल्दी स्वस्थ हो जाती हैं।

ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी (Oxford University) की रिसर्च में इस बात का खुलासा हुआ है। अध्ययन के अनुसार फोन पर बात करने या चैटिंग से संबंधों में उतनी प्रगाढ़ता नहीं आती, जितनी व्यक्तिगत तौर पर मिलने से। इससे तनाव का स्तर (Stress level) घटता है और स्वास्थ्य में सुधार होता है।

मानसिक स्वास्थ्य पर भी असर

यूनिवर्सिटी के विकासवादी मनोविज्ञान ( Evolutionary Phycology) के प्रोफेसर डॉ. रॉबिन डनबार के अनुसार सामाजिक दायर अगर बड़ा हो तो शारीरिक के साथ मानसिक स्वास्थ्य पर भी महत्वपूर्ण असर पड़ता है। यह महिलाओं और पुरुषों दोनों पर लागू होता है।

हंसी-मजाक और क्लब का सहारा

रिसर्च में बाहर की गतिविधियों को लेकर भी सुझाव दिए गए हैं। इसके मुताबिक ग्रुप में हंसी-मजाक, क्लब आदि में मनोरंजन या किसी खेल आदि में शरीक होकर महिलाएं अपनी जिंदगी में नया रंग भर सकती हैं। पुरुषों को भी इन गतिविधियों से लाभ पहुंचता है। हालांकि बहुत कम लोग ही ऐसा कर पाते हैं।

ऑक्सिटोसिन हॉर्मोन का कमाल

कैलिफोर्निया यूनिवर्सिटी की रिसर्च भी कुछ इसी तरह की बात कहती है। इसके अनुसार दोस्तों के साथ आउटिंग से सेहत में सुधार होता है। इसके अलावा दोस्ती तनाव और अवसाद को कम करने का काम करती है। शोधकर्ताओं का मानना है कि इसके पीछे ऑक्सिटोसिन हॉर्मोन का हाथ है। यूनिवर्सिटी के प्रमुख अन्वेषक शेली ई. टेलर कहते हैं कि जिस व्यक्ति में ऑक्सिटोसिन का स्तर ज्यादा होता है, वह कम चिंतित, ज्यादा शांत और अधिक सामाजिक होता है।

तो फिर देर किस बात की, आउटिंग का प्लान बनाएं और निकल पड़ें दोस्तों के साथ !!

0.00 avg. rating (0% score) - 0 votes
0 replies

Leave a Reply

Want to join the discussion?
Feel free to contribute!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *