विटामिन D मौत से लड़ने की देता है ताकत

विटामिन D अभी तक तक हड्डियों की मजबूती और ओस्टियोपोरोसिस जैसे रोगों से बचने के लिए जरूरी बताया जाता रहा है, लेकिन एक रिसर्च ने इसका दायरा और बढ़ा दिया है। इसके अनुसार विटामिन D का संबंध शरीर की प्रतिरोधक क्षमता से भी है। यह हृदय और कैंसर समेत कई बीमारियों से लड़ने की ताकत प्रदान करने में सहायक होता है। इसके ठीक उल्टा इसकी कमी से गंभीर नतीजे सामने आते हैं। लंदन के एक प्रमुख मेडिकल जर्नल बीएमजे (BMJ) की रिपोर्ट भी यही दर्शाती है। इसके अनुसार एक अध्ययन में यह सामने आया कि विटामिन D के कम स्तर वाले वयस्कों में हृदय रोग से 35 और कैंसर से मरने की 14 प्रतिशत अधिक आशंका थी।

ऐसे पहचानें विटामिन D की कमी

कमजोरी और अक्सर थकान महसूस होना विटामिन D की कमी के प्रमुख लक्षण हैं। इसकी कमी से उदासी के भाव चेहरे पर देखे जाते हैं। रातों को नींद न आने का भी एक कारण विटामिन D की कमी हो सकता है। वैसे इसकी सही पहचान के लिए ब्लड टेस्ट जरूरी है।

1 घण्टा सूर्य की रोशनी पर्याप्त

विटामिन D का प्रमुख स्रोत सूर्य की रोशनी को माना जाता है। चिकिसकों के अनुसार हफ्ते में कम से कम 2 बार 5 से 30 मिनट तक सूर्य की रोशनी में बैैैठने से आपकी जरूरत भर विटामिन D की पूर्ति हो जाती है। लेकिन यह धूप सुबह 10 बजे से दोपहर बाद 3 बजे के बीच की होनी चाहिए। इसके अलावा इस दौरान शरीर का 40 प्रतिशत हिस्सा खुला होना चाहिए।

10 माइक्रोग्राम विटामिन D जरूरी

हर वयस्क और 1 साल से बड़े बच्चों को हर दिन 10 माइक्रोग्राम विटामिन D की जरूरत होती है। गौर हो कि 1 माइक्रोग्राम 1 मिलीग्राम से एक हजार गुना छोटा होता है। एक साल से कम उम्र के बच्चों केे लिए हर दिन 8.5 से 10 माइक्रोग्राम विटामिन D की जरूरत होती है।

इन स्रोतों का लें सहारा

बहुत लोगों को नियमित धूप नहीं मिल पाती। जाड़े के दिनों या बर्फीले क्षेत्रों में भी पर्याप्त धूप मिलनी मुश्किल होती है। ऐसी स्थिति में अन्य स्रोतों का सहारा लेना जरूरी हो जाता है। अंडे की जर्दी, ऑयली फिश, रेड मीट, मशरूम, फली, चीज और बटर आदि भी विटामिन D के प्रमुख स्रोत हैं।

इसका ध्यान भी जरूरी

बहुत ज्यादा विटामिन D लेने के नुकसान भी हैं। अगर आप लंबे समय तक हर दिन 10 माइक्रोग्राम से अधिक विटामिन D ले रहे हैं तो आपके शरीर में बहुत ज्यादा कैल्शियम बन सकता है। यह हड्डियों को कमजोर करने के साथ ही किडनी को क्षतिग्रस्त करने का काम करता है।

0.00 avg. rating (0% score) - 0 votes
0 replies

Leave a Reply

Want to join the discussion?
Feel free to contribute!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *