जाड़े में फिट रखेंगे ये 5 टिप्स

ऐसे में जब पारा 8 डिग्री से भी नीचे जा चुका है तो कौन गर्म बेड से बाहर निकलना चाह रहा !! बहुतों का अब रोज का रूटीन बन गया है-बैठे-बैठे खाना-पीना और ज्यादा समय ब्लैंकेट में बिताना। नतीजा, आलस्यपन में बदन टूटना और वजन बढ़ना। पर क्या जाड़े से बचते हुए भी हम अपने को फिट रख सकते हैं या बढ़ते मोटापे को कंट्रोल कर सकते हैं? इसका उत्तर है बिल्कुल। इसे पांच आसान टिप्स के तौर पर समझा जा सकता है।

1. खुद को सक्रिय रखें

जाड़े की वजह से आपकी बाहर की गतिविधियां जैसे जिम, सुबह की सैर आदि बंद हो गई है तो घर के अंदर खुद को सक्रिय बनाएं। इनडोर एक्सरसाइज को रूटीन में शामिल करें। वर्कआउट के लिए थोड़ा समय निकालें। घर में ट्रेडमिल पर वॉक भी कर सकते हैं। ऐसी स्थिति में सुबह-शाम योग करना सर्वोत्तम होता है। रोज 15 मिनट का योग पर्याप्त माना जाता है। घर में डांस और फन एक्टिविटीज के सहारे भी हम अपने को फिट रख सकते हैं।

2. हेल्दी फूड लें

सर्दी में फ्लू, जोड़ों का दर्द और इंफेक्शन का खतरा बढ़ जाता है। यह बहुत कुछ हमारे खाने पर भी निर्भर करता है। फिट रहने के लिए हमें फाइबर वाले आहार लेना चाहिए। इसके लिए ताजे फल और हरी सब्जियों की मात्रा आहार में बढ़ा देना चाहिए। इनसे हमारे शरीर को विटामिन की भी पूर्ति होती है। जाड़े में बीन्स, दाल, बादाम, अलसी के बीज, ओमेगा 3 फैटी एसिड आहार में लेना बेहतर होता है।

3. लिक्विड की मात्रा बढ़ाएं

जाड़े में खाने की मात्रा बढ़ जाती है। इसके विपरीत पानी की मात्रा बहुत घट जाती है। इससे शरीर में पानी की मात्रा कम हो जाती है। पर्याप्त पानी ब्लड प्रेशर को नियंत्रित रखने के साथ ही शरीर के हानिकारक तत्वों को बाहर निकालने में मददगार होता है। यह जोड़ों के लिए लुब्रिकेंट का काम करता है। यह हमारे पाचन, त्वचा और बालों के लिए भी लाभकारी साबित होता है। पानी की जगह गर्म पेय जैसे सूप आदि भी लेना ठीक रहता है, लेकिन इस तरह ज्यादा शुगर का कतई सेवन न करें। यह घातक हो सकता है।

4. पर्याप्त धूप जरूरी

जाड़े में धूप कम मिल पाती है, खासकर बड़े शहरों में। धूप लेना हमारी हड्डियों की मजबूती के लिए बहुत जरूरी है। इससे हमें विटामिन D की प्राप्ति होती है। विटामिन D दांतों की सलामती के लिए भी उतना ही आवश्यक है। इससे शरीर की प्रतिरोधक क्षमता भी मजबूत होती है। विशेषज्ञों के अनुसार हर किसी को रोज 10 से 30 मिनट तक धूप लेनी जरूरी होता है। जाड़े में थोड़ी देर धूप में टहलना मूड बूस्टर का काम करता है। इसलिए वकेशन या लंबे टूर पर जाना भी बेहतर होता है।

5. मसाज थेरेपी अपनाएं

मांसपेशियों और जोड़ों में दर्द जाड़े की आम समस्या है। मसाज इसमें काफी कारगर सिद्ध होता है। इससे जोड़ों में गतिशीलता बनी रहती है। मसाज से रक्त संचार में सुधार होता है। इससे स्ट्रेस हार्मोन में कमी आती है और रिलेक्स होने में मदद मिलती है। मसाज से पॉस्चर में सुधार होने के साथ ही त्वचा पर निखार आता है। इसके लिए हॉट स्टोन मसाज और डीप टिशु मसाज आदि ट्राई किया जा सकता है।

0.00 avg. rating (0% score) - 0 votes
0 replies

Leave a Reply

Want to join the discussion?
Feel free to contribute!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *