ताजमहल टूर (Taj Mahal Tour) : कब, क्यों और क्या लेकर जाएं

दुनिया के सात अजूबों में शामिल ताजमहल (Taj Mahal) का टूर (Tour) कई मायनों में काफी दिलचस्प है। इसकी विशेष खासियत के चलते ही यूनेस्को (UNESCO) ने इसे वर्ल्ड हेरिटेज साइट के रूप में घोषित कर रखा है। आगरा (प्रस्तावित अग्रवन) में यमुना नदी के दक्षिणी किनारे पर स्थित मोहब्बत की यह अनमोल निशानी 42 एकड़ में फैली हुई है। इसे मुस्लिम कला का आभूषण (Jewel of Muslim Art) कहा जाता है। ताजमहल सूर्य की रोशनी (Sun light) में बेहद खूबसूरत दिखता है। पूर्णिमा की रात में इसका दीदार (Full Moon View) तो कभी न भूलने वाला अनुभव होता है। पिछले कुछ वर्षों में यहां हुए बदलावों को देखते हुए ताजमहल घूमने जाने से पहले इन कुछ बातों को जरूर ध्यान में रखें।

खुलने के दिन और समय

ताजमहल शुक्रवार को छोड़कर रोज खुला रहता है। शुक्रवार को यहां जुमे की नमाज होती है। पूर्णिमा की रात में ताजमहल का दीदार भी शुक्रवार और रमजान के दिनों में बंद रहता है। ताजमहल सूर्योदय (6-7 बजे सुबह) से सूर्यास्त (6-7:30 बजे) तक खुला रहता है। समय अलग-अलग मौसम पर निर्भर करता है।

टिकट किसके लिए कितना

  • ताजमहल घूमने का टिकट हर भारतीय के लिए 50 रुपये है। ऑनलाइन टिकट लेने पर 5 रुपये की छूट मिलती है। 15 वर्ष से नीचे के बच्चों का कोई टिकट नहीं लगता है, चाहे वह भारतीय हों या विदेशी।
  • विदेशियों और अप्रवासी भारतीयों के लिए ताजमहल घूमने का टिकट 1100 रुपये है। सार्क (SAARC) और बिम्सटेक (BIMSTEC) के नागरिकों के टिकट का शुल्क 540 रुपये है। ऑनलाइन टिकट लेने वाले ऐसे यात्रियों को 50 रुपये की छूट मिलती है।
  • अगर आप मुख्य समाधि (Main Mausoleum) स्थल के भीतर तक जाना चाहते हैं तो आपको 200 रुपये अतिरिक्त शुल्क चुकाना पड़ेगा।
  • पूर्णिमा की रात में ताजमहल घूमने के लिए हर भारतीय के लिए 510 रुपये का टिकट है। इसके लिए विदेशियों के टिकट का शुल्क 750 रुपये है। 3 से 15 साल तक के बच्चों का टिकट 500 रुपये का मिलता है। इसका टिकट रात में ताजमहल देखने के एक दिन पहले लेना पड़ता है।
  • रात में चांद का दीदार महीने में 5 दिन किया जा सकता है। यह पूर्णिमा की रात से दो रात पहले और दो रात बाद तक होता है। इसके लिए टिकट आगरा में भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण कार्यालय (Archaeological Survey of India Office) से लिया जा सकता है। किसी भी तरह की पूछताछ सुबह 10 बजे से शाम 6:00 बजे के बीच 0562-2227261 नंबर पर की जा सकती है।

प्रवेश से पहले यह जरूर जान लें

  1. ताजमहल में मोबाइल फोन ले जाने की अनुमति है पर हेडफोन, मोबाइल चार्जर, इलेक्ट्रॉनिक उपकरण, तार, म्यूजिक प्लेयर, चाकू या अन्य हथियार ले जाने की मनाही है। रात में ताज दर्शन के दौरान मोबाइल फोन ले जाने पर रोक है, पर जांच के बाद वीडियो कैमरा ले जाने की अनुमति दी जाती है।
  2. दिन में ताज दर्शन के दौरान वीडियो कैमरा अंदर ले जा सकते हैं पर इसे प्रवेश द्वार की कुछ दूरी तक ही ले जाने की छूट है। इसके लिए प्रति वीडियो कैमरा 25 रुपये चुकाने पड़ते हैं।
  3. ताजमहल के अंदर खान-पान, धूम्रपान या अल्कोहल पूरी तरह से वर्जित है। इसलिए इन जरूरतों को पूरा करने के बाद ही अंदर प्रवेश करना चाहिए।
  4. प्रदूषण कारणों के चलते ताजमहल से 500 मीटर के दायरे में वाहनों का प्रवेश वर्जित है। इसलिए यहां या तो सार्वजनिक वाहन से जाएं या थोड़ी दूर पर ही अपने वाहन पार्क करें।
  5. कम से कम सामान लेकर जाने वालों को यहां घूमने में काफी आसानी होती है। प्रवेश से पहले गेट पर लॉकर्स की सुविधा उपलब्ध है। यहां सामान रखकर आसानी से ताजमहल की सैर कर सकते हैं।

इसलिए खास है ताजमहल

तत्कालीन मुगल सम्राट शाहजहां ने अपनी बेगम मुमताज महल की याद में जिस खूबसूरत ताजमहल की कल्पना की थी, उसे बनाने में 20 हजार कारीगरों और मजदूरों को 21 साल लग गए। इसके मुख्य वास्तुकार थे उस्ताद अहमद लाहौरी। यहां घूमने के लिए हर साल करीब 7-8 लाख दर्शक आते हैं। ताजमहल घूमने के लिए नवंबर से फरवरी तक का समय उचित माना जाता है। इस दौरान गर्मी या बरसात की चिंता नहीं रहती है। यहां हर वर्ष 18 से 27 फरवरी तक ताज महोत्सव का आयोजन होता है। इस दौरान यहां काफी रौनक रहती है।

दिल्ली से आगरा कैसे पहुंचें

  • दिल्ली से आगरा की दूरी करीब 223 किलोमीटर है। यमुना एक्सप्रेस वे से होते हुए यहां पहुंचने में 3 घन्टे लगते हैं। इस एक्सप्रेस वे पर टोल चुकाना पड़ता है।
  • आनंद विहार से आगरा के लिए वॉल्वो बसें भी मिलती हैं। इनमें एक व्यक्ति का किराया 650-700 रुपये होता है। इसी तरह आगरा से दिल्ली के लिए विशेष बस खुलती हैं।
  • दिल्ली के हजरत निजामुद्दीन से आगरा के लिए प्रतिदिन कई ट्रेन हैं। यहां से गतिमान एक्सप्रेस सुबह 8:10 बजे चलकर सुबह 9:50 बजे यानि 1 घन्टे 40 मिनट में आगरा पहुंचाती है। हजरत निजामुद्दीन से ही ताज एक्सप्रेस सुबह 7 बजे खुलती है। यह आगरा पहुंचाने में 2 घन्टे 40 मिनट का समय लेती है।
  • आगरा के लिए दिल्ली से कई लग्जरी ट्रेन भी चलती हैं। महाराजा एक्सप्रेस और पैलेस ऑन व्हील्स दिल्ली के सफदरजंग रेलवे स्टेशन से खुलती हैं। इन दोनों ट्रेन के रवाना होने का समय शाम का है। इनका सफर शाही यात्रा और खान-पान का अहसास कराता है।
0.00 avg. rating (0% score) - 0 votes
0 replies

Leave a Reply

Want to join the discussion?
Feel free to contribute!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *