संगीत से ऐसे सुनने की क्षमता बढ़ाएं, डिप्रेशन दूर करें

संगीत में शक्ति बहुत है। इसे जिस किसी ने साध लिया, उसका जीवन सफल हो गया। ऐसा हम सुनते आ रहे हैं, लेकिन अब विज्ञान ने भी यह साबित कर दिया है कि संगीत कई बीमारियों को दूर करने में काफी सहायक है। कुछ बीमारियों में तो यह दवा से भी ज्यादा कारगर है। आधुनिक चिकित्सा पद्धति सेे इलाज केे दौरान विकसित देशों में भी डॉक्टर अब मरीजों को संगीत सुनने की सलाह दे रहे हैैं।

श्रवण शक्ति 

संगीत सुनने वालों की श्रवण शक्ति बढ़ती है। जर्मनी में टिनिटस रोग के मरीजों पर एक शोध किया गया। इसमें पाया गया कि जो मरीज संगीत सुन रहे थे, उनकी सुनने की क्षमता काफी बढ़ गई। टिनिटस रोग से ग्रसित लोगों के एक या दो कानों में बराबर आवाज गूंजती रहती है। इनमें  सुनने की क्षमता खो देने का खतरा बना रहता है। इसलिए हल्की आवाज में प्रतिदिन खासकर सोने से कुछ घंटे पहले संगीत जरूर सुनना चाहिए।

डिप्रेशन

संगीत सुनने में खर्च न के बराबर है और यह आसानी से सुलभ है। यह डिप्रेशन और तनाव दूर करने काफी मददगार है। वयस्क और बुजुर्ग लोगों में तनाव ज्यादा पाया जाता है, इसलिए उन्हें तो संगीत सुनना ही चाहिए। अमेरिका की टेक्सास यूनिवर्सिटी के एक अध्ययन के अनुसार संगीत सुनने के बाद व्यक्ति अच्छा महसूस करता है।

अर्थराइटिस

संगीत का एक चमत्कारिक गुण यह भी है कि इससे दर्द कम महसूस होता है। अर्थराइटिस के मरीजों को नियमित तौर पर संगीत सुनना चाहिए। स्ट्रोक और मस्तिष्काघात के मरीजों को ठीक करने में संगीत काफी सहायक है।

स्मरण क्षमता

अमेरिका की ब्राउन यूनिवर्सिटी ने 25 हजार लोगों पर हाल में एक रिसर्च कराई है। इसमें न सिर्फ यह साबित हुआ है कि संगीत सुनने से डिमेंशिया के मरीजों में स्मरण शक्ति बढ़ गई, बल्कि यह भी कि ऐसे रोगियों को अपेक्षाकृत कम दवा की जरूरत पड़ी।

ह्रदय रोग

संगीत हृदय रोगियों के लिए काफी लाभदायक है इससे हृदय गति और रक्तचाप का स्तर हमेशा बरकरार रहता है। हृदयाघात के रोगियों का यह अवसाद भी कम करता है। कीमोथेरेपी और रेडियोथेरेपी से गुजरने वालों को संगीत सुनने से काफी राहत मिलती है।

कफ और छाती में जकड़न

सीओपीडी (क्रोनिक ऑब्सट्रक्टिव पल्मनरी डिजीज) के मरीजों के लिए संगीत एक दवा के समान है। सांस कम आने, घरघराहट, कफ और छाती में जकड़न की दिक्कत में संगीत थेरेपी से सुधार होता है।

अच्छी नींद

अगर आप संगीत सुनने के अभ्यस्त हैं तो आपको अच्छी नींद जरूर आएगी। संगीत से मन खुश रहता है। म्यूजिकल उपकरण बजाने से भी मानसिक स्वास्थ्य सुधरता है।

0.00 avg. rating (0% score) - 0 votes
0 replies

Leave a Reply

Want to join the discussion?
Feel free to contribute!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *