दिल्ली हाट (Dilli Haat) खरीदारी और मनोरंजन के लिए खास जगह

लोकेशन : दिल्ली हाट, आईएनए (Dilli Haat, INA)

खुलने के दिन : हफ्ते के सातों दिन

खुलने का समय : सुबह 10:30 से रात 10 बजे तक।

नजदीकी मेट्रो स्टेशन : आईएनए (यलो लाइन)

प्रवेश शुल्क : वयस्क : 30 रुपये। बच्चा : 20 रुपये। विदेशी : 100 रुपये।

अगर आपके पास 2-3 घन्टे का समय है और किसी अच्छी जगह पर समय बिताने चाहते हैं तो इसके लिए आईएनए स्थित दिल्ली हाट (Dilli Haat) सबसे बेस्ट है। यह खरीदारी ही नहीं, मनोरंजक गतिविधियों के लिए भी दिल्ली का हॉट डेस्टिनेशन है। देशभर की संस्कृति को समेटे शिल्प के अलावा पॉट और जूलरी आदि के स्टाल यहां एक ही जगह मिल जाते हैं। 1994 में लोगों के लिए शुरू किया गया यह हाट बाजार परंपरागत के साथ लेटेस्ट डिजाइन के लिए भी जाना जाता है। खाने-पीने के शौकीन लोगों और बच्चों के लिए यहां बहुत कुछ खास है। शाम को यहां घूमने जाना ठीक रहता है।

प्रमुख आकर्षण

दिल्ली हाट के प्रमुख आकर्षण में से एक यहां की पॉटरी है। अलग-अलग राज्यों के स्टाल पर आप एक से एक पॉट देख सकते हैं। ये कुछ महंगे जरूर मिलते हैं पर इनकी खासियत अलग होती है। आयोजकों द्वारा हर 15 दिन पर यहां स्टाल बदल दिए जाते हैं, इसलिए आइटम में नवीनता बनी रहती है। घर के सजावटी सामान, इलेक्ट्रॉनिक उपकरण, कसीदाकारी वाले कपड़े, आलीशान फर्नीचर, लेटेस्ट जूलरी और बच्चों के खिलौनों की यहां से खरीदारी की जा सकती है। यहां मेहंदी लगवाई जा सकती है और खुद का पोर्ट्रेट भी बनवाया जा सकता है। इसके लिए शुल्क चुकाना पड़ता है। इस हाट में एक से पेंटिंग भी उपलब्ध होती हैं।

खाने के लिए क्या खास

गुजरात का ढोकला, जम्मू का कहवा कबाब और सिक्कम के मोमोज का यहां स्वाद लिया जा सकता है। इसके अलावा महाराष्ट्र की पूरणपोली, नगालैंड का बम्बूज हॉट चिकन और अन्य कई राज्य आधारित खाने के आइटम यहां मिलते हैं। इनका अलग-अलग जायका लोगों को यहां बार-बार खींचकर ले आता है।

दिल्ली हाट फेस्टिवल

दिल्ली हाट में पूरे साल तरह-तरह के आयोजन होते रहते हैं। मैंगो फेस्टिवल, अदबी महोत्सव आदि में यहां भीड़ जुटती है। खास त्योहार या दिवस पर भी यहां सांस्कृतिक आयोजन होते रहते हैं। पहले पता कर इन मौकों पर जाने से यहां का टूर और खास बन जाता है।

हेल्पलाइन नंबर : 011 26119055

0.00 avg. rating (0% score) - 0 votes
0 replies

Leave a Reply

Want to join the discussion?
Feel free to contribute!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *