माहवारी के असहनीय दर्द और माइग्रेन में बहुत कारगर है हींग

हींग (Asafoetida or Hing) एक ऐसा मसाला है जो अलग-अलग व्यंजनों में लगभग घर में प्रयोग किया जाता है। पर्शियन खाने में भी इसका इस्तेमाल बहुतायत होता है। इसकी खुशबू पूरे व्यंजन का टेस्ट बदल देती है, लेकिन इससे भी कहीं अधिक यह दवा की तरह काम करता है। हींग में आयरन, फॉस्फोरस, कैल्शियम, कैरोटीन, नियासिन और रिबोफ्लेविन पाया जाता है। 100 ग्राम हींग में 4 प्रतिशत फाइबर मौजूद होता है। हींग माहवारी के दर्द और माइग्रेन में रामवाण का काम करता है। पाचन और कब्ज की दिक्कत दूर करने में भी यह बहुत कारगर है। इसके अलावा इसके कई और फायदे हैं।

अनियमित पीरियड से छुटकारा

हींग को आहार में शामिल करने से अनियमित पीरियड की दिक्कत से छुटकारा मिलता है। इसके अलावा ज्यादा स्राव और असहनीय दर्द से भी राहत मिलती है। इसके प्रयोग से शरीर में प्रोजेस्टेरोन स्राव सामान्य हो जाता है। इससे रक्त प्रवाह में सुधार होता है। हींग ल्यूकोरिया आदि में भी कारगर होता है। इसको लेने से पुरुषों में नपुंसकता दूर होती है। हींग को दाल आदि में मिलाकर आसानी से प्रयोग किया जा सकता है।

पेट में गैस की दिक्कत से राहत

बहुत से लोगों को डॉक्टर खाने में हींग के प्रयोग की सलाह देते हैं। उनके अनुसार इसके प्रयोग से गरिष्ठ भोजन भी पचने लायक बन जाता है। इससे पेट की गैस, मरोड़ और दर्द से काफी आराम मिलता है। IBS के मरीजों को हींग का सेवन जरूर करना चाहिए। एक ग्लास गुनगुने पानी में आधा चम्मच हींग मिलाकर खाली पेट पीने से पेट में गैस बनने की दिक्कत दूर होती है। इससे ब्लड प्रेशर और ब्लड शुगर भी नियंत्रित रहता है।

अस्थमा या सांस की बीमारी में लाभकारी

हींग अस्थमा या सांस की बीमारी में बहुत लाभकारी साबित होता है। ब्रोंकाइटिस, सूखी खांसी या बलगम बनने पर भी हींग का इस्तेमाल करना फायदेमंद होता है। हींग को अदरक और शहद के साथ मिलाकर लेने से काफी आराम मिलता है। पानी की मदद से हींग का पेस्ट बनाकर सीने पर लगाने से छाती की जकड़न दूर करने में मदद मिलती है।

सिरदर्द कम करे

हींग के प्रयोग से सिर दर्द और माइग्रेन से काफी हद तक राहत मिलती है। इसके इस्तेमाल से सिर में रक्त वाहिकाओं का फैलाव कम होता है, जिससे सिरदर्द कम करने में मदद मिलती है। हींग को पानी में मिलाकर पीने से काफी फायदा पहुंचता है। इसके अलावा पानी में हींग को मिलाकर सूंघने से भी सिर दर्द से छुटकारा मिलता है। कान दर्द में भी हींग काम आता है।

त्वचा और बालों को पोषण

हींग त्वचा और बालों को पोषण प्रदान करता है। मुल्तानी मिट्टी, गुलाब जल, नींबू रस की कुछ बूंदों को मिलाकर पेस्ट बना लें। अब इसके ऊपर हींग पाउडर छिड़ककर अच्छी तरह मिला लें। अब इस पेस्ट को चेहरे पर लगाएं। यह दाग-धब्बे मिटाने में फेस मास्क की तरह काम करता है। हींग बालों को झड़ने से रोकने में भी मदद करता है।

0.00 avg. rating (0% score) - 0 votes
0 replies

Leave a Reply

Want to join the discussion?
Feel free to contribute!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *