बेहतर और लंबी जिंदगी के फॉर्मूले

जिंदगी अंकगणित की तरह है। अगर आपका फॉर्मूला सही है तो किसी भी सूरत में परिणाम गलत नहीं हो सकता। अच्छे परिणाम हमें हमेशा सफलता दिलाते हैं। तो क्या लंबी और बेहतर जिंदगी के लिए भी कोई फॉर्मूला है? क्या बीमारीरहित, अवसादमुक्त और उम्र के आखिरी पड़ाव तक युवा दिखने की चाहत को हकीकत में बदलना हर किसी के लिए संभव है? फिटनेस विशेषज्ञों के शब्दों में यह न सिर्फ मुमकिन है, बल्कि आसानी से सुलभ भी है। ऐसा चाहने वालों को सिर्फ ये करना होगा :

2.5 लीटर रोज पानी पीएं

शरीर को कार्य करने के लिए हमें पर्याप्त मात्रा में पानी की जरूरत होती है। यूरोपियन खाद्य सुरक्षा प्राधिकरण के दिशा-निर्देशों के मुताबिक महिलाओं को रोज 2 लीटर और पुरुषों को 2.5 लीटर पानी जरूर पीना चाहिए। इससे शरीर के दूषित तत्व बाहर निकल जाते हैं। पानी की पर्याप्त मात्रा से ब्रेन पॉवर मजबूत होती है और सिरदर्द दूर होता है। इससे चेहरे पर तेज बना रहता है।

7 हजार कदम हर दिन चलें


फिट रहने के लिए रोज कम से कम 7,000 कदम चलना जरूरी है। अगर आप 10 हजार कदम रोज चलते हैं तो स्वास्थ्य के लिए इससे बेहतर कुछ नहीं हो सकता। प्राकृतिक वातावरण में सैर से शुद्ध हवा भी मिलती है। टहलने से हड्डियां मजबूत होती हैं और ह्रदय संबंधी बीमारियों का खतरा नहीं होता है।

24.5 से ऊपर न हो बॉडी मॉस इंडेक्स (BMI)


स्वस्थ रहने के लिए वजन घटाना बहुत जरूरी है। वैज्ञानिक तौर पर सामान्यतया व्यक्ति का बॉडी मॉस इंडेक्स (BMI) 18.5 से 24.5 के बीच होना चाहिए। अगर यह इससे ऊपर है तो आपको ओवरवेट माना जाएगा। BMI का फॉर्मूला यह है : (शरीर का कुल भार किलोग्राम में) /(शरीर की कुल ऊंचाई मीटर में)2 । जिम सलाहकारों के अनुसार 5’3″ की महिलाओं का भार 47 से 57 किलोग्राम के बीच होना चाहिए। 5’3″ ऊंचाई के पुरुषों के लिए 50-61 किलोग्राम भार एकदम उचित है।

45 मिनट का वर्कऑउट


वर्कऑउट से फैट बर्न होता है और मसल्स मजबूत होती हैं। रोज 45 मिनट के वर्कऑउट से आप फिट रह सकते हैं। सबसे आदर्श 75 मिनट का वर्कऑउट माना जाता है। अगर यह रोज संभव न हो तो इसे हफ्ते में बांट सकते हैं। वजन घटाने के लिए एक सप्ताह में कम से कम 200 मिनट का वर्कऑउट जरूरी है।

5 मिनट का मेडिटेशन


रोज 5 मिनट का मेडिटेशन जरूर करें। इसे शुरू में 1-2 मिनट के लिए भी किया जा सकता है। हर दिन 10 मिनट का मेडिटेशन आदर्श स्थिति है। हार्वर्ड यूनिवर्सिटी के एक अध्ययन के मुताबिक मेडिटेशन दिमाग की संरचना को बदल देता है। इससे तनाव का लेवल एकदम कम हो जाता है। मेडिटेशन बैठकर करना बेहतर होता है। इसे बेड पर न करें। प्रयास करें कि यह खुले स्थान पर किया जाए या खिड़की वाली जगह हो।

6.5 घन्टे की नींद लें


2010 में प्रकाशित एक जर्नल के अनुसार लंबी जिंदगी का राज 6.5 घन्टे की नींद में छिपा है। हाल की रिसर्च में भी यह बात मानी गई है। हालांकि बच्चों को इससे ज्यादा नींद की जरूरत होती है। उम्र बढ़ने के साथ ही नींद घटने लगती है। उजाले वाले स्थान के बजाय अंधेरे में सोना बेहतर होता है।

5 बार फल-सब्जी खाएं


फल और सब्जियों में एंटीऑक्सीडेंट्स और फाइबर पाया जाता है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक दिन में 5 बार फल-सब्जी का सेवन करना चाहिए। एक बार में इनकी मात्रा 75-80 ग्राम हो सकती है। सुबह के समय फल खाना अच्छा रहता है। खाने के तुरंत बाद फल खाने से बचें।

10 साल उम्र बढ़ जाएगी धूम्रपान छोड़ने पर


हार्वर्ड विश्विद्यालय की एक रिसर्च के अनुसार धूम्रपान छोड़ने के दिन से आपकी उम्र 10 साल बढ़ जाती है। हालांकि यह आपकी उम्र पर निर्भर करता है। धूम्रपान छोड़ने के लिए दृढ़ इच्छाशक्ति जरूरी है। अपने को ज्यादा से ज्यादा सक्रिय और व्यस्त रखें। धूम्रपान से होने वाले नुकसान के बारे में सोचें। यह अपने आप छूट जाएगा।

0.00 avg. rating (0% score) - 0 votes
0 replies

Leave a Reply

Want to join the discussion?
Feel free to contribute!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *